Obesity -the worlds deadliest disease

obesity heart disease BP
Please share
  • 33
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    33
    Shares

overview

Obesity is a worldwide issue in the present movement so it is so important to know about overview of obesity and its complication on health like heart disease, blood pressure(BP), cancer and kidney disease you can find an article on obesity facts overview, treatment, complication, and management.it is the world’s deadliest disease.

Our food supply is intermittent so our body has a specialized cell called Fat cell which stores energy and gives it back when needed during starvation. Due to the sedentary lifestyle and presence of nutritional abundance genetic system is altered, lead to increase energy stores and produce health complications.

Defination and measurement

Obesity is a state of excess adipose tissue mass. It’s either overweight or lean but muscular.so most widely method is BMI which is weight/height (kg/m2). Other methods for an obesity measurement are skin fold: thickness, underwater weighing, CT, MRI, electrical impedance.

Both man and women’s BMI range from 19 to 26 kg/m2 but 30 used as a threshold value. The all-cause disease starts slowly e.g. heart disease and cancer.

BMI between 26 to 30 with high blood pressure and a pre-diabetic person should get therapeutic intervention. Abdominal fat is more significant then fats on buttocks and thighs because it will lead to diabetes, insulin resistance (pre-diabetic), blood pressure(BP), and hyperlipidemia (increase fat in the blood) hyperandrogenism in women (male characteristic in women).

Prevalence

Overall cases of obesity are more in women (38%) than men (34%) and worried about the rising trends in children and adolescents. The cause of obesity may vary from country to country, but contributory factors include rising income, changing food supplies, and reduced activity.

Body natural regulation

Bodyweight is regulated by both endocrine and neural components that regulate energy intake and expenditure so it is connected to each other. The major contributing factor is leptin which is released by fat cells and goes into brain for regulation.

Appetite is influenced by many hormones secreted in our body which pass a signal to the brain for hunger. Basal metabolic rate account for 70% of daily expenditure whereas active physical activity contributes 5-10%.

Energy expenditure has the following component 1.resing or basal metabolic rate (70%) 2. The energy cost of metabolizing and storing food; 3. The thermal effect of exercise; and 4. Adaptive thermogenesis (brown adipose tissue)

lipid cell

Adipose tissue is composed of lipid –storing adipose cells. The adipose cell secret compliment factors d and plasminogen activator inhibitor (that produce clot formation), angiotensin ( increase blood pressure), peroxisome proliferator-activated receptor y(PPARy, increase insulin sensitivity) are likely to contribute to obesity-related pathology.

causes of obesity

Obesity comes from multiple causes and it’s very complicated. Due to the complexity of neuroendocrine (brain chemical) and metabolic systems that regulate energy intake and expenditure. Gene is a causative factor for familial obesity although environmental factors, diet, and nutrition also contributing factors. Cultural factors are also important and composite of diet and physical activity. High fat diet and sleep deprivation are precipitating factors of obesity.

gene vs surrounding environment

Obesity has been known to be caused by mutation of different genes. Ob/ob gene, db/db gene, proopiomelanocortin (POMC), AgRP mutation lead to reduction of leptin which is an important regulator of obesity.

Specific genetic syndrome

Other specific syndromes are associated with obesity e.g. Cushing syndrome (increased steroid in the blood), hypothyroid (low thyroid), insulinoma (high insulin in the blood). Hypothalamic dysfunction (part of the brain) leads to altered satiety, hunger, and energy expenditure, and growth hormone suppression may be low in high nutrition supply.

Is the obese person eats more? The answer is yes, an obese person needs more energy to maintain their metabolic demand as compared to a lean person.

How much energy expenditure in obesity? There is a higher expenditure in obesity as compared with lean and another component is thermogenesis, called no exercise activity thermogenesis (NEAT) e.g. daily living, maintaining body posture.

Leptin level in obesity? Leptin is good for our body and it controls body weight.it has been shown that leptin resistance and low levels are seen in an obese person. So its research molecule for treating obesity!

Consequences of obesity

Obesity has major adverse effects on health and mostly heart causes. Obesity and overweight together second leading causes in the United States, accounting for 300000 deaths per year. The life expectancy of the moderately obese individuals could be shortened by 2-5 years, and 20- 30-year-old male with BMI >45 may lose 13 years of life.

Insulin resistance and type 2 diabetes mellitus

Increased levels of insulin and unresponsive insulin are massive features of obesity. More than 80% of a diabetic has obesity however remaining diabetic individual has multiple factors for diabetes mellitus type 2. Weight loss and exercise are the major contributors to diabetes even some degree can be effective.

Reproductive Disorders

Affect both men and women, male hypogonadism is associated with increase body fat with a pattern of females whose weight is > 160% ideal body weight. However, musculation, libido potency, and spermatogenesis (production of sperm) is an intact inmost person.

Obesity also associates with menstrual abnormalities in women, increasing androgen production. Most obese women with oligomenorrhea have the polycystic ovarian disease (PCOS) with associated anovulation (no menses), ovarian hyper androgens (increase steroid). obese women with PCOS, weight loss often restore normal menses.

heart Disease

The study shows obesity is an independent risk factor for heart disease in men and women (including coronary disease, stroke, and congestive heart failure). Also, affect lipid profile increase low-density lipoprotein (LDL) and decrease high-density lipoprotein (HDL). Obesity also associated with hypertension (increase blood pressure(BP)) and often responsive to modest weight loss. Use a larger cuff to avoid false measurement BP.

Pulmonary Disease

Obesity is associated with low chest wall compliance lead to obstructive sleep apnea in which decreases oxygen in the blood and more prone to hypertension (increase blood pressure(BP)). Reducing 10 -20 kg may help in improvement in symptoms and BiPAP(ventilator) machine may get some relief.

Hepatobiliary Disease

Obesity is associated with nonalcoholic fatty liver disease (NAFLD) represent the most common cause of liver disease in the industrial field. NAFLD may progress to Nonalcoholic steatohepatitis (NASH). Obesity enhances biliary secretion lead to symptomatic gall stone. Reducing weight will make a difference.

Cancer

Obesity is associated with an increased risk of cancer. Obesity in male higher cancer mortality of esophagus, stomach, pancreas, colon, liver. Females are associated with gall bladder cancer.

Bone, Joint and Cutaneous Disease

Obesity is associated with osteoarthritis due to weight-bearing and activate inflammatory pathways. The prevalence of Gout is also increasing. Dark, thick skin folds around neck and elbow and interphalangeal joint space. Fingal and yeast are also more prone to developed.

Evolution and management of obesity

As you from above so many complications are happened due to obesity so we have to find a solution right from the root level so we ask the patient to several questions so we can manage obesity.

1 focus on obesity related history

2 physical examination and determine degree of obesity

3 assessment of comorbid condition

4 determination of fitness level

5 assessment of patient to readiness to adopt life style changes

Although the vast majority of cases of obesity from behavior factors that affect diet and physical activity the history may suggest secondary causes that merit further evaluation.

Body Mass Index (BMI) and Waist Circumference

Bai calculate as a weight/ height (kg/m2) or weight/ height (lb. /in28)*703. It gives body fat and the risk of other complications. Excess abdominal fat is assessed by the waist to hip ratio is independently associated with diabetes mellitus and heart disease.

Physical fitness

A study shows exercise as an important predictor for all-cause mortality rate-independent BMI.

Obesity-associated condition

Fasting lipid profile should be done with fasting glucose and blood pressure(BP) measurement

Identifying the high risk patients

American college of endocrinology have proposed obesity disease 4 stages.

Assessing the patient’s readiness to change

 Motivation and support need to reduce the weight of the patient. This can be check by question scale 1-10 whether they are interested in weight loss. 10 means confident and 0 means are frustrated.

Treatment

The goal of therapy

The primary goal is to improve obesity and comorbid conditions to reduce the risk of developing comorbidity. Therapy begins with lifestyle modification, 8-10% weight loss in 6 months is a realistic target.

LIFESTYLE MANAGEMENT

Obesity involves three basic components diet habits, physical exercise, and behavior modification.

Diet therapy

Our primary focus is on the reduction of calorie consumption. Guideline from the American heart association /American college of cardiology/ the obesity society recommended reducing 500-752 kcal/day. A diet of 1200-1500 kcal/d for women and 1500-1800 kcal/day for men. Dietary substitution is choosing small portion size, eating more fruit and vegetables, consuming whole grain cereals, selecting leaner cut meat and skimmed dairy product, reducing consumption of fried foods, other food added fats and oil, drinking water instead of sugar-sweetened beverages.

Macronutrient composite of diet may vary with the preference. Decreasing sodium (salt) intake <2300 mg/day guidelines to specific goals is found on www.choosemyplate.gov.

Many trials showed that more effective to reduce weight is to decrease calorie intake. However, a consultation with a registered dietitian would be beneficial.

Energy density is another concept to reduce your hunger. You may add extra water or fiber in the diet to reduce its energy density.

Very low-calorie diet (VLCD) aggressive dietary therapy <800 kcal/day. It helps in comorbid conditions and failed the conventional weight loss regime.

Physical Activity Therapy

Exercise and dietary modification is the most effective behavior approach. Physical activity guidelines www.health.gov recommend that adult should engage 150 min moderate-intensity or >300 min high intensity exercise physical activity per week. Consultation with a physiologist or personal trainer may be helpful.

Behavior therapy

Reinforce to new dietary and physical activity behaviors including self – monitoring techniques (e.g. journaling, weighing, measuring food and activity) stress management stimulus control (e.g. using a smaller plate, not eating in front of a television or in-car) social support, problem-solving these techniques is time-consuming need supervision by ancillary office staff, nurse-clinician or registered dietitian.

Drugs

It is mainly used for BMI >30 and has not been successful in dietary and physical activity. There are mainly two types of medication 1.appetite suppressants 2. Fat blocker.

Surgery

Bariatric surgery can be considered for a patient BMI>40kg/m2 severe obesity and BMI >35 moderate obesity associated with a serious medical condition.

Please do not hesitate to comment, if you have any queries

Thank you for reading.

Dr Manish Khokhar

______________________________________________________________________________

obesity heart disease BP
m2education

मोटापा- दुनिया की सबसे घातक बीमारी

मोटापा है दुनिया भर में वर्तमान आंदोलन में इस मुद्दे को। हमारी खाद्य आपूर्ति रुक-रुक कर होती है इसलिए हमारे शरीर में वसा कोशिका नामक विशेष कोशिका होती है जो ऊर्जा को संग्रहीत करती है और भुखमरी के दौरान जरूरत पड़ने पर इसे वापस देती है ।

गतिहीन जीवन शैली के कारण और पोषण बहुतायत आनुवंशिक प्रणाली की उपस्थिति बदल जाती है, ऊर्जा की दुकान बढ़ाने और स्वास्थ्य जटिलताओं का उत्पादन करने के लिए नेतृत्व।

मोटापा अतिरिक्त वसा ऊतक द्रव्यमान की एक स्थिति है। यह या तो अधिक वजन वाला या दुबला-पतला है, लेकिन मांसपेशियों का सबसे व्यापक तरीका बीएमआई है जो वजन / ऊंचाई (किग्रा / एम 2) है। मोटापे की माप के लिए अन्य तरीके त्वचा की तह हैं: मोटाई, पानी के नीचे भार, सीटी, एमआरआई , विद्युत प्रतिबाधा।

पुरुष और महिला दोनों बीएमआई 19 से 26 किग्रा / एम 2 तक होते हैं लेकिन 30 का उपयोग थ्रेशोल्ड वैल्यू के रूप में किया जाता है। सभी रोग धीरे-धीरे शुरू होते हैं जैसे हृदय रोग और कैंसर।

उच्च रक्तचाप और पूर्व मधुमेह व्यक्ति के साथ 26 से 30 के बीच बीएमआई चिकित्सीय हस्तक्षेप प्राप्त करना चाहिए। पेट की चर्बी अधिक महत्वपूर्ण है, फिर नितंबों और जांघों पर वसा क्योंकि यह मधुमेह, इंसुलिन प्रतिरोध (पूर्व मधुमेह), रक्तचाप और हाइपरलिपिडिमिया (रक्त में वसा में वृद्धि) महिलाओं (महिलाओं में पुरुष विशेषता) में अतिपरजीविता को जन्म देगा ।

कुल मिलाकर मामलों की मोटापा हैं और अधिक में महिलाओं ( तो आदमी (34%) और 38%) चिंतित बढ़ती बारे में tren बच्चों और में d किशोरों । मोटापे का कारण अलग-अलग देशों में अलग-अलग हो सकता है, लेकिन अंशदायी कारकों में बढ़ती आय, खाद्य आपूर्ति में बदलाव और कम होने वाली गतिविधि शामिल हैं।

शरीर के वजन को अंतःस्रावी और तंत्रिका दोनों घटकों द्वारा नियंत्रित किया जाता है जो ऊर्जा इंट्रा के और व्यय को नियंत्रित करते हैं ताकि यह एक दूसरे से जुड़ा हो। प्रमुख योगदान कारक लेप्टिन है जो वसा कोशिकाओं द्वारा जारी किया जाता है और विनियमन के लिए मस्तिष्क में जाता है।

भूख हमारे शरीर में स्रावित कई हार्मोनों से प्रभावित होती है जो भूख के लिए मस्तिष्क को संकेत देते हैं। दैनिक व्यय के 70% के लिए बेसल चयापचय दर का खाता जहां सक्रिय शारीरिक गतिविधि 5-10% योगदान देती है।

ऊर्जा व्यय के निम्नलिखित घटक हैं। 1. चयापचय या बेसल चयापचय दर ( 70%) 2. भोजन के चयापचय और भंडारण की ऊर्जा लागत; 3. व्यायाम का थर्मल प्रभाव; और 4. अनुकूली थर्मोजेनेसिस (ब्राउन वसा ऊतक)

वसा ऊतक लिपिड-स्टोरिंग वसा कोशिका से बना होता है। वसा कोशिका रहस्य की तारीफ करने वाले कारक डी और प्लास्मिनोजेन एक्टिवेटर इनहिबिटर (जो थक्का बनाने का उत्पादन करते हैं), एंजियोटेंसिन (रक्तचाप बढ़ाते हैं), पेरोक्सिसम प्रोलिफ़रेटर-सक्रिय रिसेप्टर y (पीपीएआरवाई , इंसुलिन संवेदनशीलता में वृद्धि ) मोटापे से संबंधित विकृति में योगदान करने की संभावना है। 

मोटापे की एटियलजि

मोटापा कई कारणों से आता है और यह बहुत जटिल है। न्यूरोएंडोक्राइन (मस्तिष्क रासायनिक) और चयापचय प्रणालियों की जटिलता के कारण जो ऊर्जा सेवन और व्यय को नियंत्रित करते हैं। जीन फैमिलियल मोटापे के लिए एक कारक है, हालांकि पर्यावरणीय कारक, आहार और पोषण भी कारक का योगदान करते हैं। सांस्कृतिक कारक भी आहार और शारीरिक गतिविधि के महत्वपूर्ण और समग्र हैं। उच्च वसा वाले आहार और नींद की कमी मोटापे के कारक हैं।

मोटापे को विभिन्न जीन के उत्परिवर्तन के कारण जाना जाता है। ओबी / ओबी जीन , डीबी / डीबी जीन, प्रॉपियोमोनोकोर्टिन (पीओएमसी ) , एग्रीप म्यूटेशन से लेप्टिन की कमी होती है जो मोटापे का महत्वपूर्ण नियामक है।

अन्य विशिष्ट सिंड्रोम मोटापे से जुड़े हैं जैसे कुशिंग सिंड्रोम ( रक्त में स्टेरॉयड में वृद्धि ), हाइपोथायरायड (कम थायरॉयड), इंसुलोमा ( रक्त में उच्च इंसुलिन)। हाइपोथैलेमिक डिसफंक्शन (मस्तिष्क का हिस्सा) परिवर्तित तृप्ति की ओर जाता है, उच्च पोषण आपूर्ति में भूख और ऊर्जा व्यय और वृद्धि हार्मोन का दमन कम हो सकता है ।

क्या मोटा व्यक्ति ज्यादा खाता है? इसका उत्तर है हां, दुबले व्यक्ति की तुलना में मोटे व्यक्ति को अपनी चयापचय मांग को बनाए रखने के लिए अधिक ऊर्जा की आवश्यकता होती है ।

मोटापे में कितना ऊर्जा खर्च? मोटापे में अधिक खर्च होता है क्योंकि दुबले और अन्य घटक थर्मोजेनेसिस होते हैं, जिन्हें व्यायाम गतिविधि थर्मोजेनेसिस ( एनईएटी) कहा जाता है , जैसे दैनिक जीवन, शरीर की मुद्रा बनाए रखना।

मोटापे में लेप्टिन का स्तर? लेप्टिन हमारे शरीर के लिए अच्छा है और यह शरीर के वजन को नियंत्रित करता है। यह दिखाया गया है कि लेप्टिन प्रतिरोध और निम्न स्तर मोटे व्यक्ति में देखा जाता है। तो इसका शोध मोटापे के इलाज के लिए अणु है!

मोटापे के परिणाम :

मोटापे का स्वास्थ्य पर अधिक प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है और ज्यादातर हृदय संबंधी कारण होते हैं। मोटापा और अधिक वजन संयुक्त रूप से संयुक्त राज्य अमेरिका में दूसरा प्रमुख कारण है , प्रति वर्ष 300000 मौतें। मध्यम रूप से मोटे व्यक्ति की जीवन प्रत्याशा 2-5 साल कम हो सकती है, और बीएमआई> 45 के साथ 20 वर्षीय पुरुष 13 साल का जीवन खो सकता है।

इंसुलिन प्रतिरोध और टाइप 2 मधुमेह

इंसुलिन और गैर-जिम्मेदार इन्सुलिन के स्तर में वृद्धि मोटापे की व्यापक विशेषताएं हैं। मधुमेह के 80% से अधिक लोगों में मोटापा है, लेकिन शेष मधुमेह व्यक्ति में मधुमेह मेलेटस टाइप 2 के लिए कई कारक हैं। मधुमेह के लिए वजन घटाने और व्यायाम का बड़ा योगदान है, यहां तक ​​कि कुछ डिग्री भी प्रभावी हो सकती हैं।

प्रजनन संबंधी विकार

पुरुषों और महिलाओं दोनों को प्रभावित करते हैं , पुरुष हाइपोगोनैडिज्म शरीर की वसा के पैटर्न में वृद्धि के साथ जुड़ा हुआ है जिसका वजन> 160% आदर्श शरीर का वजन है। हालांकि , अधिकांश व्यक्ति में मस्क्यूलाइजेशन, कामेच्छा शक्ति और शुक्राणुजनन (शुक्राणु का उत्पादन) बरकरार है।

मोटापा महिलाओं में मासिक धर्म की असामान्यताओं, बढ़ती एण्ड्रोजन उत्पादन के साथ भी जुड़ा हुआ है । ऑलिगो मेनोरेजिया वाली ज्यादातर मोटापे से ग्रस्त महिलाओं में पॉलीसिस्टिक ओवेरियन डिजीज ( PCOS ) होती है, जिसमें संबद्ध एनोव्यूलेशन ( कोई मासिक) नहीं होता है, डिम्बग्रंथि हाइपर एण्ड्रोजन (स्टेरॉइड में वृद्धि) होती है। PCOS वाली महिलाएं , वजन घटाने से अक्सर मासिक धर्म को बहाल करती हैं।

हृदय रोग

अध्ययन से पता चलता है मोटापा पुरुषों और में हृदय रोग के लिए स्वतंत्र जोखिम कारक है (सहित महिलाओं कोरोनरी रोग, स्ट्रोक , और congestive दिल की विफलता)। लिपिड प्रोफाइल वृद्धि को कम घनत्व वाले लिपोप्रोटीन (एलडीएल ) को भी प्रभावित करें और उच्च घनत्व वाले लिपोप्रोटीन ( एचडीएल) को कम करें। मोटापा भी उच्च रक्तचाप ( रक्तचाप को बढ़ाता है) और अक्सर मामूली वजन घटाने के लिए उत्तरदायी होता है। झूठे माप बीपी से बचने के लिए बड़े कफ का उपयोग करें ।

फेफड़े के रोग

मोटापा कम छाती की दीवार के अनुपालन से जुड़ा होता है, जिसमें अवरोधक स्लीप एपनिया होता है, जिसमें रक्त में ऑक्सीजन की कमी होती है और उच्च रक्तचाप (रक्तचाप में वृद्धि) होने का खतरा होता है। 10 -20 किग्रा को कम करने से लक्षणों में सुधार में मदद मिल सकती है और बिपैप (वेंटिलेटर) मशीन से कुछ राहत मिल सकती है।

हेपेटोबिलरी रोग

मोटापा गैर- वसायुक्त वसायुक्त यकृत रोग (NAFLD ) के साथ जुड़ा हुआ है जो औद्योगिक क्षेत्र में यकृत रोग का सबसे आम कारण है। एनएएफएलडी नॉनक्लॉजिक स्टीटोहेपेटाइटिस (एनएएसएच ) में प्रगति कर सकता है । मोटापा पित्त स्राव को बढ़ाता है जिससे रोगसूचक पित्त की पथरी होती है। वजन कम करने से फर्क पड़ेगा।

कैंसर

मोटापा कैंसर के बढ़ते खतरे से जुड़ा है। ग्रासनली, पेट , अग्न्याशय, बृहदान्त्र, यकृत की उच्चतर कैंसर मृत्यु दर में मोटापा । महिला पित्ताशय के कैंसर से जुड़ी हुई है।

हड्डी, संयुक्त और त्वचीय रोग

वजन बढ़ने और भड़काऊ मार्गों को सक्रिय करने के कारण मोटापा ऑस्टियोआर्थराइटिस से जुड़ा हुआ है। गाउट का प्रचलन भी बढ़ रहा है। गर्दन और कोहनी और इंटरफैंगल संयुक्त स्थान के चारों ओर अंधेरे, मोटी त्वचा गुना। फिंगल और खमीर भी विकसित होने का खतरा अधिक होता है।

मोटापे का विकास और प्रबंधन

जैसा कि आप ऊपर से मोटापे के कारण बहुत सारी शिकायतें कर रहे हैं, इसलिए हमें मूल स्तर से सही समाधान ढूंढना होगा, इसलिए हम रोगी से कई प्रश्न पूछते हैं ताकि हम मोटापे का प्रबंधन कर सकें।

1 मोटापे से संबंधित इतिहास पर ध्यान केंद्रित

2physical परीक्षा और मोटापे की डिग्री निर्धारित करते हैं

3 कोमॉर्बिड स्थिति का आकलन

4 फिटनेस स्तर का निर्धारण

जीवन शैली में परिवर्तन को अपनाने के लिए रोगी की तत्परता के 5 आकलन

हालांकि व्यवहार कारकों से मोटापे के मामलों के विशाल बहुमत जो आहार और शारीरिक गतिविधि को प्रभावित करते हैं , इतिहास माध्यमिक कारणों का सुझाव दे सकता है जो आगे के मूल्यांकन का गुण रखते हैं।

बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) और कमर परिधि

बाई एक वजन / ऊंचाई (किग्रा / एम 2) या वजन / ऊंचाई ( lb. / in28) * 703 के रूप में गणना करता है । यह शरीर में वसा और दूसरों की जटिलता का जोखिम देता है। कमर से लेकर कूल्हे के अनुपात तक पेट की चर्बी का आंकलन स्वतंत्र रूप से मधुमेह और हृदय रोग से जुड़ा होता है।

शारीरिक फिटनेस

एक अध्ययन से पता चलता है कि एक महत्वपूर्ण भविष्यवक्ता दुश्मन सभी कारण मृत्यु दर स्वतंत्र बीएमआई है।

मोटापा- संबंधित स्थिति

उपवास लिपिड प्रोफाइल को उपवास ग्लूकोज और रक्तचाप माप के साथ किया जाना चाहिए

उच्च जोखिम वाले रोगियों की पहचान करना

अमेरिकन कॉलेज ऑफ एंडोक्रिनोलॉजी ने मोटापे की बीमारी को 4 चरणों में प्रस्तावित किया है।

रोगी की तत्परता को बदलने का आकलन करना

रोगी के वजन को कम करने के लिए प्रेरणा और समर्थन की आवश्यकता होती है। यह प्रश्न स्केल 1 -10 द्वारा जांचा जा सकता है कि क्या वे वजन घटाने में रुचि रखते हैं। 10 का अर्थ है आत्मविश्वास और 0 का अर्थ है निराश।

इलाज

चिकित्सा का लक्ष्य

प्राथमिक लक्ष्य मोटापा संबंधित कोमोबिड स्थिति को सुधारने के लिए है ताकि कमोर्बिडिटी के विकास को कम किया जा सके। थेरेपी जीवन शैली संशोधन के साथ शुरू होती है, 6 महीनों में 8-10% वजन कम करना एक यथार्थवादी लक्ष्य है।

जीवन प्रबंधन

मोटापे में तीन बुनियादी घटक आहार आदत, शारीरिक व्यायाम और व्यवहार संशोधन शामिल हैं।

आहार चिकित्सा

हमारा प्राथमिक ध्यान कैलोरी की खपत में कमी पर है। अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन / अमेरिकन कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी / मोटापा समाज के दिशानिर्देश ने 500-752 किलो कैलोरी / दिन कम करने की सिफारिश की। एक 1200-1500 के आहार किलो कैलोरी महिलाओं और पुरुषों के लिए 1500-1800 किलो कैलोरी / दिन के लिए / डी। आहार प्रतिस्थापन छोटे हिस्से का चयन कर रहे हैं, अधिक फल और सब्जियां खा रहे हैं, पूरे अनाज अनाज का सेवन कर रहे हैं, लीनर कट मांस और स्किम्ड डेयरी उत्पाद का चयन कर रहे हैं, तले हुए खाद्य पदार्थों की खपत को कम कर रहे हैं, अन्य खाद्य पदार्थों में वसा और तेल, चीनी मीठा पेय के बजाय पीने का पानी।

आहार के मैक्रोन्यूट्रिएंट कम्पोजिट वरीयता के साथ भिन्न हो सकते हैं। घटते सोडियम ( नमक) का सेवन <2300 mg / day दिशा-निर्देश विशिष्ट लक्ष्य के लिए www.choosemyplate.gov पर पाया जाता है ।

कई परीक्षणों से पता चला कि वजन कम करने के लिए अधिक प्रभावी कैलोरी का सेवन कम करना है। हालांकि, पंजीकृत आहार विशेषज्ञ के साथ परामर्श फायदेमंद होगा ।

ऊर्जा घनत्व आपकी भूख को कम करने के लिए एक और अवधारणा है। आप इसके ऊर्जा घनत्व को कम करने के लिए आहार में अतिरिक्त पानी या फाइबर मिला सकते हैं।

बहुत कम कैलोरी आहार ( वीएलसीडी) आक्रामक आहार चिकित्सा <800 किलो कैलोरी / दिन। यह कोमोरिड स्थिति और असफल पारंपरिक वजन घटाने शासन में मदद करता है।

शारीरिक गतिविधि थेरेपी

व्यायाम और आहार संशोधन सबसे प्रभावी व्यवहार दृष्टिकोण है। शारीरिक गतिविधि दिशानिर्देश www.health.gov अनुशंसा करता है कि वयस्क को प्रति सप्ताह 150 मिनट मध्यम तीव्रता या> 300 मिनट उच्च तीव्रता व्यायाम शारीरिक गतिविधि में संलग्न होना चाहिए । फिजियोलॉजिस्ट या पर्सनल ट्रेनर से परामर्श मददगार हो सकता है।

व्यवहार चिकित्सा

आत्म-निगरानी तकनीकों (जैसे जर्नलिंग, वज़न, भोजन और गतिविधि को मापना) तनाव प्रबंधन प्रोत्साहन नियंत्रण ( जैसे छोटी प्लेट का उपयोग करना , टीवी के सामने खाना नहीं खाना) और सामाजिक समर्थन, सामाजिक सहायता, समस्या समाधान सहित तकनीक समय के लिए सहायक कार्यालय स्टाफ , नर्स-चिकित्सक या पंजीकृत आहार विशेषज्ञ द्वारा पर्यवेक्षण की आवश्यकता है ।

ड्रग्स

यह मुख्य रूप से बीएमआई> 30 के लिए उपयोग किया जाता है और जो सफल आहार और शारीरिक गतिविधि नहीं है। वहाँ मुख्य रूप से दवा 1.appetite दबाने 2. के दो प्रकार के होते हैं फैट अवरोधक ।

शल्य चिकित्सा

बेरिएट्रिक सर्जरी को एक मरीज के लिए माना जा सकता है बीएमआई> 40 किग्रा / एम 2 गंभीर मोटापा और बीएमआई> 35 मध्यम मोटापा अन्य चिकित्सकीय स्थिति के साथ जुड़ा हुआ है।

यदि आपके कोई प्रश्न हैं , तो कृपया टिप्पणी करने में संकोच न करें

डॉ मनीष खोखर


Please share
  • 33
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    33
    Shares

4 thoughts on “Obesity -the worlds deadliest disease”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *